बदायूँ: उद्योग स्थापित करने के लिए दो माह का समयः डीएम

बदायूँः जनपद में उद्योग के लिए कैंसिल किए गए 73 प्लाटों को दो महीने में उद्योग स्थापित करने का मौका दिया गया। व्यापारियों को उद्योग स्थापित करने में आ रही समस्या का समय से निस्तारण किया जाए। सप्ताहिक बंदी के दिन दुकान खोलने पर व्यापारी पर कड़ी कार्रवाई की जाए। बाजारों में कैंप लगवा कर लेबरों को पंजीकृत किया जाए। वाट माप बाजारों में कांटों का सघन निरीक्षण करें। बिजली चोरी करने वाले लोगों से कढ़ाई से निपटने के निर्देश दिए।
बुधवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में उद्योग बन्धु की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने पिछले माह की बैठक में जनपद के 73 प्लाटों में उद्योग बंधुओं द्वारा उद्योग न स्थापित किए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए निरस्त कर दिए थे।  निरस्त प्लाटों पर उद्योग बंधुओं को बैठक में दो महीने में उद्योग स्थापित करने का समय दिया है। उन्होंने कहा कि दो महीने में उद्योग स्थापित कर लेते हैं तो आवंटन के लिए फिर से विचार विमर्श किया जाएगा। उन्होंने समस्त संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि उद्योग स्थापित करने में जो भी समस्या आ रही हो उसका तत्काल निस्तारण अवश्य करें। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा कंपनियां लगाई जाए जिससे लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। सप्ताहिक बंदी के संबंध में नगर मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि कोई भी दुकान नहीं खुलनी चाहिए जिसके लिए समय-समय पर निरीक्षण करते रहें। व्यापारियों ने अवगत कराया कि श्रम विभाग द्वारा लेबरों का पंजीकृत नहीं किया जा रहा है। जिलाधिकारी ने श्रम विभाग को निर्देश दिया कि बाजारों में कैंप लगाकर लेबरों का पंजीकरण करें। वाट माप विभाग की शिकायत पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए डीएम ने निर्देश दिए कि चेकिंग का संघन अभियान चलाकर हेरा फेरी करने वाले दुकानदारों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट को निर्देश दिए कि मोहल्लों में मीटिंग करके लोगों को बता दिया जाए कि जो भी उपभोगता बिजली चोरी करेगा उसको किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व महेंद्र सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अजय कुमार श्रीवास्तव, नगर मजिस्ट्रेट संजय कुमार सिंह सीओ सिटी वीरेन्द्र कुमार यादव, उपायुक्त उद्योग धर्मेंद्र भास्कर सहित अन्य अधिकारी एवं व्यापारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.