बदायूँ: प्रकृति से खिलवाड़ किया तो विनाश निश्चित – सचिन सूर्यवंशी

बदायूँ: भारतीय एकता परिवार के तत्वावधान में प्रतिदिन पौधरोपण करके उल्लासपूर्वक वनमहोत्सव सप्ताह मनाया गया सप्ताह के अंतिम दिन दिनाँक 07 जुलाई 2018 को संस्था के मार्गदर्शक सेवानीवरित्त एस.आई. श्री गयाप्रसाद पाठक एडवोकेट के मार्गदर्शन में थाना सिविल लाइंस में पौधरोपण किया गया।
          मुख्य अतिथि श्रीमान देवेश सिंह जी (प्रभारी निरीक्षक थाना सिविल लाइंस)
ने भी पौधरोपण कर सभी का मनोबल बढ़ाया। उन्होंने अपने विचार रखते हुए कहा कि वर्तमान समय में जितनी तेजी से प्रकृति का तापमान बढ़ रहा है वह अत्यधिक चिंतनीय विषय है।          जब कोई व्यक्ति एक हरा वृक्ष काटता है तब शासनादेशानुसार उसे न्यूनतम पाँच पौधे रोपने का प्रावधान है किन्तु बहुत कम लोग ही इस नियम का पालन करते हैं। जल, जंगल, जमीन के दोहन के कारण ही जलवायु का सन्तुलन बिगड़ा हुआ है जिसके फलस्वरूप अत्यधिक तापमान व वर्षा का कम या असमय होने जैसी समस्याएं उतपन्न हो रही हैं यदि अतिशीघ्र ही जनमानस ने प्रकृति से खिलवाड़ करना बन्द न किया तो दुःखद परिणाम भुगतने होंगे जिसके जिम्मेदार हम सभी स्वयं होंगे। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार बालक हमारे देश का भविष्य हैं उसी प्रकार पौधे हम सबका भविष्य ही नहीं बल्कि वर्तमान भी हैं इसलिए हम सभी को अपने बालकों के साथ पौधों का भी पालन – पोषण व संरक्षण करना चाहिए
        संस्था अध्यक्ष सचिन सूर्यवंशी ने कहा कि आज वनमहोत्सव सप्ताह का समापन हुआ है संस्था के पौधरोपण अभियान का नहीं। जब तक हमारा जीवन है हम पौधरोपण करते रहेंगे और सभी से आशा के साथ निवेदन है कि हमारी अनुपस्थिति में भी सदैव पौधरोपण करते रहेंगे। हम लोगों ने अब से पाँच वर्ष पूर्व बहुत छोटे स्तर पर पौधरोपण अभियान की शुरुआत की थी किन्तु धीरे धीरे सहयोग, मार्गदर्शन व आशीर्वाद प्रदान करने वाले महानुभाव मिलते गए जिसके फलस्वरूप संस्था को एक लाख पौधे रोपने में सफलता प्राप्त हुई। वर्तमान समय में मनुष्य, वाहनों व भौतिक संसाधनों की बढ़ती संख्या के कारण सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से पृथ्वी की सुरक्षा करने वाली ओज़ोन की परत भी तेजी से क्षतिग्रस्त हो रही है यदि हमने प्राकृतिक संसाधनों का इसी प्रकार दोहन किया तो शीघ्र ही विनाश निश्चित है इसलिए अतिशीघ्र ही जागना चाहिए अन्यथा जागने और पछताने का समय न बचेगा।
      बरेली मण्डल अध्यक्षा श्रीमती प्रतिभा चन्देल ने कहा कि हमारी सन्तानें बुढ़ापे में हमको भोजन व स्नेह दें या न दें लेकिन हमारे द्वारा रोपे गए पौधे हमें आजीवन शुद्ध प्राणवायु ही नहीं बल्कि फल, फूल व छांव अवश्य देंगे इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को पौधरोपण अवश्य करना चाहिए।
           कार्यक्रम में एस एस आई श्री राजीव राठी, एस आई श्री राजेश कुमार, आरक्षी श्री रवि सिंह, महिला आरक्षी कु. पूनम, कु. लक्ष्मी तिवारी, कु. प्रियंका, कांस्टेबल श्री रघुवीर सिंह का विशेष सहयोग रहा था संस्था के मार्गदर्शक एड. श्री ज्ञानानन्द पाण्डेय, बदायूँ जिलाध्यक्ष श्री धर्मवीर सिंह, बरेली मण्डल युवा प्रभारी कुशाग्र यादव, सदस्यता प्रमुख सुजीत कुमार, युवा नगर अध्यक्ष चाँद बाबू आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.