बदायूँ: लापरवाही करने पर वेतन रोकने की चेतावनी

बदायूँ :  राज्य स्तरीय टीमों के मार्गदर्शन में कार्यरत 04 ज़िला स्तरीय व 42 ब्लाक स्तरीय टीमों द्वारा बुखार के कुल 4603 रोगियों को उपचार एवं जांच की गई तथा आर0डी0टी0 किट द्वारा 91 पी0वी0 व 67 पी0एफ0 रोगी चिन्हित किये गये, जिनका आर0टी0 एवं ए0सी0टी0 उपचार किया गया।
मलेरिया विभाग द्वारा 13 टीमें गठित कर 09 ग्रामों मे लार्वीसाइडल छिड़काव (तिगुलापुर, सेमरिया, छजऊ, बीरमपुर, इस्माईलपुर, गिधौल, छोटा व बड़ा परसुरा, मौजमपुर), 1 ग्राम के 285 घरां में पायरेथ्रम स्प्रे तथा 09 ग्रामों मे फॉगिंग कराई गई। प्रभावित ग्रामों में शुद्ध पेयजल हेतु क्लोरीन गोलियों के उपयोग का तरीका बताते हुये वितरण किया जा रहा है तथा ओ0आर0एस0 पैकिट वितरित किये गये। सभी स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी/स्वास्थ्य कार्यकर्ता क्षेत्रों का भ्रमण कर बुखार व मच्छरों से बचाव के सम्बन्ध में ‘‘क्या करें? क्या न करें?‘‘ के सम्बन्ध में पम्पलैट्स वितरण तथा माईकिंग के माध्यम से जनमानस को स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान कर रहें है तथा प्रभावित क्षेत्रों मे आशा, ए0एन0एम0 द्वारा क्षेत्रों का सघन भ्रमण कर बुखार के रोगियों को चिन्हित किया जा रहा है। ज़िला चिकित्सालयों व सभी सामु0/प्रा0स्वा0केन्द्रों पर फीवर हैल्प डैस्क/फीवर क्लीनिक की स्थापना की जा चुकी है, जिसमें बुखार के कुल 2765 रोगियों को उपचारित किया गया तथा 1037 रक्त पट्टिकाये व 1247 आर0डी0टी0 किटों से जांच कराई गई, जिसें कुल 75 पी0वी0 व 03 पी0एफ0 को चिहिन्त हुये। ज़िला संक्रामक रोग नियन्त्रण टीम के दो चिकित्सकों डा0जौन सिंह व डा0सोहेल खान पर कार्य में लापरवाही बरतने के सम्बन्ध में वेतन रोककर चेतावनी पत्र जारी कर दिया गया है तथा जिन सामु0/प्रा0स्वा0केन्द्रों पर सभी बुखार के रोगियों की ब्लड स्लाइड्स नही बनायी जा रही है, उनको चेतावती पत्र जारी कर दिया गया है। भविष्य में लापरवाही बरती जाने पर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.