बदायूँ: संक्रामक रोग नियन्त्रण टीमों द्वारा प्रभावित ग्रामों में बचाव के बताए उपाय ।

बदायूँः  जनपद में ज़िला स्तरीय व ब्लाक स्तरीय टीमों द्वारा बुखार के 483 रोगियों को उपचार किया गया एवं 272 रोगियों की रक्त पट्टिकायें बनायी गयीं तथा 465 रोगियों का आर0डी0टी0 (रैपिड डायग्नोस्टिक किट) द्वारा जांच की गई। देखे गये कुल मरीज़ों मे आर0डी0के0 द्वारा कुल 88 पी0वी0 व 80 पी0एफ0 रोगी चिन्हित किये गये, जिनका आर0टी0 एवं ए0सी0टी0 उपचार किया गया। टीमों द्वारा प्रभावित ग्रामों मे आज लगभग 1200 क्लोरीन गोलियों का वितरण किया गया। टीमों के माध्यम से बुखार के कुल 44303 तथा जनपद के चिकित्सालयों मे स्थापित फीवर क्लीनिक के माध्यम से 37277 बुखार से पीड़ित मरीज़ों का उपचार किया जा चुका है।
मलेरिया विभाग द्वारा टीमें गठित कर 04 टीमों द्वारा नगर बदायूँ के 04 क्षेत्रों मोहल्लों मे लार्वीसाइडल छिड़काव तथा 022 ग्रामों(ग्राम जखेली ब्लाक जगत व ग्राम फरीदापुर चकोला ब्लाक सलारपुर) मे फॉगिंग कराई गई एवं ग्रामों में वैक्टर मॉनिटरिंग का कार्य भी कराया जा रहा है।
संक्रामक रोग नियन्त्रण टीमों द्वारा  प्रभावित ग्रामों में शुद्ध पेयजल हेतु क्लोरीन गोलियों के उपयोग का तरीका बताते हुये वितरण किया जा रहा है तथा ओ0आर0एस0 पैकिट वितरित किये गये। ज़िला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी स्वास्थ्य कार्यकर्ता क्षेत्रों का भ्रमण कर बुखार व मच्छरों से बचाव के सम्बन्ध में पम्पलैट्स वितरण तथा माईकिंग के माध्यम से जनमानस को स्वास्थ्य शिक्षा प्रदान कर रहें है तथा प्रभावित क्षेत्रों मे आशा, ए0एन0एम0 द्वारा क्षेत्रों का सघन भ्रमण कर बुखार के रोगियों को चिन्हित किया जा रहा है। जनपद के प्रभावित ब्लाकों के नोडल अधिकारियों द्वारा ग्रामों का भ्रमण कर अपने निर्देशन में टीमों से उपचारात्मक व निरोधात्मक कार्यवाही कराई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.