बदायूँ: सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं और सहयोग प्रदान करने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्रशस्ति पत्र और प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

बदायूँ: अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में हुई भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा में जिले और तहसील में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं और सहयोग प्रदान करने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्रशस्ति पत्र और प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। देवकन्याओं ने ओम और स्वातिक के रूप में सजे सैकड़ों दीप प्रज्ज्वलित किए।
मुख्य अतिथि एसडीएम सदर पारसनाथ मौर्य ने दीप प्रज्ज्वलन का कार्यक्रम का शुभारंभ कराया। उन्होंने कहा कि बच्चों की बहुमूल्य प्रतिभाओं और सृजनशक्ति को उभारे। नैतिक संस्कारों का अभिसिंचन करें तभी मानव में देवत्व और धरती पर स्वर्ग का अवतरण होगा।
मुख्यवक्ता अनिल प्रकाश गुप्ता ने कहा कि भारतीय संस्कृति, शिक्षा और संस्कार की ऊर्जा स्त्रोत है। जीवन को पावन और मूल्यवान बनाती है।
राष्ट्रपति शिक्षक सम्मान प्राप्त जगदीश चंद्र पाण्डेय, खंड शिक्षा अधिकारी प्रवीन शुक्ल, राष्ट्रपति शिक्षक सम्मान प्राप्त संगीता शर्मा, कस्तूरबा जिला समंवयक सीमा रानी, जिला समंवयक प्रशिक्षण गौरव सक्सेना ने मां गायत्री, वेदमूर्ति तपोनिष्ठ पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य और वंदनीय माता भगवती देवी शर्मा के चित्र पर पुष्पार्चन किया।
शक्तिपीठ के परिब्राजक सचिन देव ने वेदमंत्रोच्चारण मां गायत्री का पूजन किया। महिला मंडल की शिवंवदा सिंह, शोभा जौहरी और शशि प्रजापति ने प्रज्ञागीत ‘‘मनुज देवता बनें, बनें यह धरती स्वर्ग समान, यही संकल्प हमारा‘‘ की शानदार प्रस्तुति दी। मुख्य प्रबंध ट्रस्टी बी ज्ञानेंद्र ने भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा की आख्या प्रस्तुत की। माया सक्सेना, कुमुद सक्सेना ने आगन्तुकों का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।
गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने बताया कि भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा में जिले स्तर पर नीरू यादव, वीर बहादुर, खुशबू, कपिल दिवाकर, दीपक, गौरव शर्मा, मुस्ताक अली, कुलदीप यादव प्रथम स्थान पर रहे। प्रज्ञा, अभिषेक, दुर्वासा, अनिल दिवाकर, मुस्कान बी, महावीर, अरूण शंखधार, अजय कुमार द्वितीय और खुशी गुप्ता, दुर्गपाल, कशिश, आयुषी, आफताब, शिवम कुमार, मो0 तालिब खान और क्रांति तृतीय स्थान पर रहीं। महाविद्या स्तर पर राहिला रहमान, हाकिम सिंह, मोनी और प्रीति राजपूज ने सर्वश्रेष्ठ स्थान पाया।
बदायंू तहसील स्तर पर प्रियांशी, पंकज, रजनी, अखलेश, केंद्रपाल, सोनू, दिव्या, अभिषेक, अंकित, नीलांश, मानसी, अनुष्का, पीयूष, सहसवान तहसील स्तर पर नीतू, बबली, लक्ष्मी, शशि, शिवानी, निर्देश, दुर्गेश, दिव्यांश, विमलेश, अवधेश, हृदेश, दिवाकर, सोनू, दातागंज तहसील के रचित, रिंकी, आकाश, रजत, रोशनी, अक्षरा, शीतल, विशेष, सचिन, विजय, विशुन, इरम, नीतू, आकृति, पूनम, मानसी श्रेष्ठ स्थान पाने वाले बच्चों को मुख्य अतिथि एसडीएम पारसनाथ मौर्य और मुख्य प्रबंध बी ज्ञानेंद्र ने बच्चों को सम्मानित किया।
इस मौके पर शिवकुमार गुप्ता, प्रवीन कुमार, हरिश्चंद सक्सेना, रामचंद्र प्रजापति, सुरेश मिश्रा, सुखपाल शर्मा, रघुनाथ सिंह, कालीचरन पटेल, सीमा राजन, रोहित सक्सेना, राजेश्वर पाठक, आशीष, साकेत मोहन, श्वेता गर्ग, राजेंद्र सिंह, श्यामपाल सिंह, राजेश्वरी, रामअवतार, मुकेश चंद्र, सचिन कुमार सिंह, निर्भान सिंह, सत्येंद्र सिंह, जीवन कश्यप, मुनीश सक्सेना, तूफान सिंह, मदनलाल झा, संजीव राठौर, प्रदन्या, रामगोपाल, सुरेश बाबू, रजनी मिश्रा, शोभना, पूनम, भारती निर्मल, जगदम्बा सहाय, केपी सिंह आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.