बदायूँ: स्वास्थ्य विभाग ने बदायूं देहली मार्ग पर कोविड-19 की जांच हेतु लगाया था कैम्प/देहली से सहसवान पहुंचे मात्र 10 लोगो की कोविड-19 की जांच हो सकी/शेष लोग पीछे स्टॉप पर उतरकर जांच से बचते नजर आए|

सहसवान| दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिल्ली से आने वाले लोगों की कोविड-19 की जांच कराए जाने के दिए गए निर्देशों के बाद स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र द्वारा बदायूं दिल्ली मार्ग पर स्थित पुलिस चौकी के सड़का पर कोविड-19 जांच कैंप लगाकर दिल्ली से आने वाले 10 लोगों की जांच की जांच में उपरोक्त लोग निगेटिव पाए गए| परंतु अधिकांश लोग कोविड-19 की जांच कराए जाने से बचते नजर आए वह स्टैंड पर उतरने की वजह बसों के पिछले स्टॉप पर उतरकर अपने घरों को रवाना हो गए|
ज्ञात रहे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा दिल्ली से आने वाले लोगों की कोविड-19 की जांच कराए जाने के लिए गए निर्देशों के मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय प्रशासन को दिए गए निर्देश पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्साअधीक्षक डॉ.इमरान हसन सिद्दीकी द्वारा नगर के मोहल्ला शहबाजपुर के पुलिस चौकी छ: सडका बदायूं दिल्ली मार्ग पर दिल्ली से आने वाले यात्रियों की जांच हेतु कोविड-19 का कैंप लगाया गया कैंप सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक लगाया गया| इस दौरान मात्र 10 यात्री ही बसों से उतरे जिनके कोविड-19 की जांच की गई जांच रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई| जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर उनको घर जाने की अनुमति दे दी गई| इधर पुलिस चौकी शहबाजपुर छ: सड़का पर कोविड-19 की जांच की खबर सुनकर अधिकांश यात्री शहबाजपुर स्टैंड पर उतरने की वजह पीछे स्टॉप पर उतरे जिससे दिल्ली से आने वाले लोगों की कोविड-19 की जांच नहीं हो सकी| दिल्ली से आने वाले लोगों की कोविड-19 की जांच न होने के चलते सहसवान तहसील क्षेत्र में कोविड-19 के प्रकोप का संक्रमण बढ़ने से इंकार नहीं किया जा सकता है|
मोहल्ला शहबाजपुर छ: सड़का पर कोविड-19 के लगे कैंप में डॉक्टर अब्दुल हकीम, डॉक्टर सुमंत कुमार माहेश्वरी, फार्मेसिस्ट शोएब अहमद, सहित कई चिकित्सा कर्मचारी मौजूद थे|
चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर इमरान हसन सिद्दीकी ने जानकारी देते हुए बताया की जिला प्रशासन के निर्देश पर दिल्ली से आने वाले लोगों की कोविड-19 की जांच हेतु नगर के मोहल्ला शहबाजपुर छ; सड़के पर लगे कैंप में दिल्ली से आने वाले अधिकांश यात्री मोहल्ला शहबाजपुर छ: सडका पर उतरकर पीछे स्टॉप पर उतरकर बिना जांच किए ही अपने अपने घरों को चले गए| जिसमें उपरोक्त लोगों की जांच नहीं हो सकी जबकि टीम प्रात: 10 बजे से शाम 5 बजे तक कैम्पों में बैठी रही| मात्र 10 लोगों ने ही कोविड-19 की जांच कराई| श्री सिद्दीकी ने बताया कि नगर क्षेत्र की सीमा लगभग 3 किलोमीटर है| जिस पर एक दर्जन से ज्यादा स्टॉपेज है| लोग स्थापित स्टॉप पर पीछे उतर रहे हैं| चिकित्सा अधीक्षक ने बताया स्थानीय प्रशासन से वार्ता के उपरांत अन्य स्थानों पर भी स्वास्थ्य विभाग की टीम कोविड-19 की जांच हेतु तैनात की जाएगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published.