बदायूँ: प्रत्येक गांव में बनाए जाएं स्वयं सहायता समूह: डीएम

बदायूँ: जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत, जिला विद्यालय निरीक्षक राममूरत, बीएसए रामपाल सिंह राजपूत, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी मु0 रुहेल आजम, जिला समाज कल्याण अधिकारी रामजनम, जिला कार्यक्रम अधिकारी आदीश मिश्रा, जिला दिव्याजन अधिकारी संतोष कुमार के साथ पंेशन, अनुदान के सम्बंध में बैठक आयोजित की।
मंगलवार को शिविर कार्यालय पर आयोजित बैठक में डीएम ने समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए कि सम्पूर्ण समाधान दिवसों के अवसर पर कैम्प लगाकर विभाग से संचालित सभी प्रकार की पेंशन के लाभार्थियों के फाॅर्म आॅनलाइन रजिस्टेªशन किया जाए। छात्रवृति की स्थिति ठीक न होने पर डीएम ने असंतोष जताया। डीएम ने बीएसए को निर्देश दिए कि विद्यालयों से सम्पर्क कर छात्रवृत्रि पंजीकरण की गति तेज की जाए। डीएम ने पाया कि कन्या सुमंगला योजना में लक्ष्य के सापेक्ष कार्य संतोषजनक नहीं हुआ है। 2099 आवेदन बीडीओ और एसडीएम के पोर्टल पर शो किए जा रहे हैं। डीएम ने निर्देश दिए कि गति बढ़ाकर कार्य जल्द पूर्ण किया जाए। आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को लक्ष्य देकर कार्य कराया जाए। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए कि अल्पसंख्यक क्षेत्रों में स्कूल व पंचायत भवन के लिए शासन को भेजने हेतु प्रस्ताव बनाया जाए। जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिए गए है कि प्रत्येक गांव में स्वयं सहायता समूह बनाए जाएं। इन समूहों का जनकल्याणकारी योजनाओं में सहयोग लिया जाए। बेसिक शिक्षा में कायाकल्प योजना के तहत पोर्टल पर कम शो कर रहा है। डीएम ने कहा कि इसमें डाटा फीडिंग आॅपरेटर के कार्य में लापरवाही है। डीएम ने बीएसए को निर्देश दिए कि डाटा फीडिंग आॅपरेटर का मानदेय रोकते हुए इनको नोटिस जारी किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.