यूपी के 10 हजार लोगों को नहीं मिलेगी पेंशन, विभाग ने लगाई रोक, क्या है असली वजह?

यूपी के बदायूँ जिले में पेंशन वाले बुजुर्गों के लिए झटका देने वाली खबर है। आधार प्रमाणीकरण कराने से वंचित रह गये 10 वृद्धों की राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के तहत मिलने वाली पेंशन राशि अटक गयी है।

बदायूँ/उत्तर प्रदेश
बदायूँ : आधार प्रमाणीकरण कराने से वंचित रह गये 10 वृद्धों की राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के तहत मिलने वाली पेंशन राशि अटक गयी है। इन वृद्धों द्वारा समाज कल्याण विभाग के बार-बार कहने के बाद भी आधार प्रमाणीकरण नहीं कराया जा रहा था, ये वृद्ध अगर 15 अक्टूबर तक आधार प्रमाणीकरण करा लेते हैं तो भी इन्हें प्रथम किश्त का लाभ मिल जायेगा।

जिले में राष्ट्रीय वृद्धास्था पेंशन के 73,793 लाभार्थी हैं। इनमें से अब तक 63,793 पेंशनर आधार प्रमाणीकरण करा चुके हैं। इसके बाद इन लाभार्थियों के खाते में वित्तीय वर्ष 2022-23 के तहत मिलने वाली अप्रैल, मई, जून माह की पहली किश्त ट्रांसफर कर दी गयी हैं।

वहीं 10 हजार लाभार्थियों की आधार प्रमाणीकरण न कराने की वजह से पेंशन रोक दी गयी है। अब ये लाभार्थी परेशान हैं और विभाग के चक्कर काटना शुरू कर दिये हैं, लेकिन इन्हें परेशान होने के बजाय आधार प्रमाणीकरण कराने की जरूरत हैं। आधार प्रमाणीकरण ग्राम पंचायत में पंचायत सहायक एवं जनसेवा केंद्र पर संपर्क कर कराया जा सकता है। मुख्यालय पर विकास भवन स्थित समाज कल्याण विभाग में भी आधार प्रमाणीकरण की सुविधा दी गयी है।

● 70 हजार पेंशनरों में 60 हजार ने कराया प्रमाणीकरण

10 हजार राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के लाभार्थियों की पेंशन आधार प्रमाणीकरण न कराने की वजह से रुकी हुयी है, अगर ये जल्द आधार प्रमाणीकरण करा लेते हैं तो पहली किश्त जारी करा दी जायेगी। रामजनम, समाज कल्याण अधिकारी

चीफ रिपोर्टर मुकेश मिश्रा