संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे पर लटका मिला टीवी रिपोर्टर का शव

कहते हैं समय अगर आया है तो उसे कोई टाल नहीं सकता है, विधि के विधान को भला कोई टाल पाया है। आज दुख की घड़ी में कुछ कहने का मन नहीं होता है। ऐसा ही ममाला बदायूँ के थाना उसहैत का है।

बदायूँ/उत्तर प्रदेश
उसहैत : क्षेत्र के ग्राम तरसुरा में सुबह के समय बाजरे के खेत में एक आम के पेड़ पर ग्राम तरसूरा के रहने वाले एक नेशनल चैनल के टीवी रिपोर्टर रिंकू शर्मा का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला, आनन फानन में इसकी सूचना थाना पुलिस दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस तुरंत जांच में जुट गई और घटना के कारणों का पता लगाने में जुटी रही। उधर इस घटना से परिवार और मिलने वाले सहम गए, और घर में कोहराम मचा गया। टीवी रिपोर्टर रिंकू शर्मा के एक लड़की है जोकि बहुत ही छोटी सी उम्र में अपने पिता को खो चुकी है, जिसकी उम्र महज डेढ़ साल है।

ऐसे में इस परिवार को धीरज दिलाने वाले भी खुद को नही संभाल पा रहे हैं। रिंकू शर्मा ग्राम तरसुरा निवासी हैं, और एक नेशनल चैनल में जिला संवाददाता के तौर पर कार्यरत थे, वह अपने घर में जिम्मेदार थे, रिंकू शर्मा दो भाई हैं। बड़े रविंद्र उर्फ तारु हैं, परिवार में तीन बहने हैं। अच्छे परिवार से थे रिंकू शर्मा फिर भी ऐसी घटना सुनकर हर कोई दंग रह जाता है।

आपको बता दें रिंकू शर्मा के परिजनों ने बताया कि रिंकू शर्मा की बीबी के अक्सर उनसे झगड़ा किया करती थीं। जिसके चलते उन्होंने यह कदम उठाया है। उनकी बीबी लगभग तीन महीने से मायके चली गई है और वहीं रह रही हैं। ग्रामीणों ने बताया कि सुबह सुबह ही रिंकू शर्मा मुस्कुराते हुए खेतों की तरफ जा रहे थे उसके 20 मिनट बाद ग्रामीणों ने खोजना शुरू किया तो देखा उनका शव फांसी के फंदे पर लटकता मिला और मोबाइल पेड़ के नीचे पड़ा हुआ था, फिलहाल परिजनों कहना की उनकी पत्नी पिंकी अक्सर उन्हें तलाक देने की और झूठे दहेज के मुकदमे में फंसाने की धमकी दिया करती थी, और कहा करतीं थीं तुम परिवार से ताल्लुक खत्म करो और मेरे साथ शहर में रहो चलकर यहां से अपनी हिस्से की जमीन आदि बेचकर बाहर रहो।

उनके भाई तारु ने बताया बीते दो दिन पहले भी फोन पर रिंकू की पत्नी ने यही कहा था, और रोज रोज इस क्लेश से रिंकू ने परेशान होकर चिंता में 15 दिन से खाना पीना तक छोड़ दिया था जिसको लेकर उनके घरवाले काफी परेशान थे, और परिजनो का कहना है की रिंकू की पत्नी पिंकी के मायके वाले भी खुद राजी नहीं थे की उनकी लड़की यहां रहे। इसीलिए वह भी अक्सर पिंकी के जैसे ही झूठे मुकदमों में फंसाने की साजिश रच रहे थे। फिलहाल सूचना पर पुलिस और फोरेंसिक टीम ने पहुंचकर जांच शुरू कर दी है,और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

चीफ रिपोर्टर मुकेश मिश्रा