हुक्काबार संचालक पुलिस की गिरफ्त से दूर, सदर कोतवाली पुलिस ने नोटिस भरकर कर दी खानापूर्ति

बदायूँ/उत्तर प्रदेश
बदायूँ : शहर में संचालित सील हुक्का बार के संचालक के दोनों बेटे जेल में हैं, लेकिन मुख्य सरगना असगर अली अभी तक पुलिस की पकड़ से दूर है। उसके खिलाफ गांजा रखने का भी मुकदमा दर्ज हो चुका है। इसके बाद भी सरगना की गिरफ्तारी न होने से पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान लग रहे हैं।

11 सितंबर को शहर की नई सराय पुलिस चौकी के पास स्थित हुक्काबार में छापामारी करके पुलिस व एसओजी टीम ने छह लुटेरों को मय असलाहों के पकड़ा था। पुलिस का दावा था कि लुटेरे इसी हुक्काबार में लूट की योजना बनाते थे और वारदात के बाद लूट का माल यहीं आपस में बांटते थे। पुलिस कार्रवाई के बाद हुक्काबार के भीतर होने वाले खेल के सोशल मीडिया पर एक के बाद एक वीडियो वायरल होने लगे।

 

जिसमें आरोप लगे कि अरबाज हुक्काबार की आड़ में किशोरियों को ब्लैकमेल करता था। जिसकी जांच पुलिस जांच कर रही है। इसी बीच अरबाज को गांजे के साथ पकड़ लिया गया। उसका पिता असगर अली उर्फ भूरे मौके पर फरार हो गया। एक सप्ताह बाद भी सरगना असगर अली पुलिस पकड़ से दूर है। चर्चा है कि पुलिस ने उसको नोटिस पर रिहा कर दिया है। जिससे पुलिस कार्रवाई पर सवाल खड़े हो गए है।

चीफ रिपोर्टर मुकेश मिश्रा