बदायूँ: अवैध डग्गामार वाहनों पर लगाई जाए रोक : डीएम

बदायूँः  अवैध डग्गामार वाहनों पर रोक लगाई जाए तथा यह सुनिश्चित कराया जाए कि कोई भी वाहन बाहर सवारी लटकाकर नहीं चलाएगा। स्कूली वाहनों की फिटनेस सही होनी चाहिए और ड्राइवरों एवं कंडक्टरों को प्रशिक्षण दिया जाए कि बच्चों को गाड़ी से उतरने के बाद सुरक्षित स्थान पर छोड़कर ही आगे वाहन बढ़ाएं। पुलिस लाइन चौराहे पर बसों एवं ऑटो द्वारा सवारिया न बिठाई जाए तथा रास्ते में लगने वाली दुकानों को हटवाया जाए।
शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में जिलाधिकारी दिनेश कुमार  सिंह की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने सात दिसंबर तक चलने वाले सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत निर्देश दिए हैं कि विद्यालयों के अध्यापक यह सुनिश्चित कराएं कि कोई भी बच्चा बिना लाइसेंस के वाहन नहीं चलाएगा। एआरटीओ प्रवर्तक सुहेल अहमद को निर्देश दिए कि ओवरलोडिंग वाले वाहनों को न चलने दिया जाए। डीएम ने पीडब्लूडी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सडको पर बने अवैध कटों को हर हाल में बंद कराण्। प्रत्येक वाहनों में रिफ्लैक्टर टैप अवश्य लगाए जाए। यातायात नियमों का कड़ाई से पालन कराएं। जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क किनारे अनाधिकृत रूप से वाहनों को खड़ा किए जाने को रोकने के लिए अभियान चलाकर कार्यवाही करें। जनपद के विभिन्न विद्यालयों में चल रहे वाहनों पर निर्धारित सुरक्षा मानकों को लागू कराए जाने की कार्यवाही परिवहन विभाग सुनिश्चित कराएं। ट्रैक्टर ट्राली में रिफ्लेक्टर/रेडियम टेप लगाए जाने की कार्यवाही में तेजी लाए, तेज रफ्तार/खतरनाक ढ़ंग से वाहन चलाने वाले चालकों के विरूद्ध कार्यवाही की जाए। जगह-जगह पर जहां आवश्यकता हो वहां बोर्ड डिवाइडर चिन्ह व यातायात संकेतक, स्पीड कम, आगे मोड है, इस तरह के यातायात संकेत आदि तत्काल लगाएं। उन्होंने कहा कि जितने भी ब्लैक स्पॉट हैं उन्हें जल्द से जल्द बन्द करवाने की कार्यवाही करें। डीएम ने एएआरएम  रोडवेज राजेश कुमार को निर्देश दिए कि बसों का संचालन ड्राइवर रोड द्वारा निश्चित ही गति में कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.