म्याऊ: समाचार पत्र में प्रकाशित खबर से झुब्ध होकर चौकी पुलिस पत्रकार पर झूठा मुकदमा दर्ज करने की कर रही तैयारी/एक हफ्ता वीत जाने के वाद भी म्याऊ चौकी पुलिस ने नहीं की कैन्टर चालक के विरुध कार्यवाही। ।

बदायूं:  अलापुर थाना क्षेत्र के म्याऊ चौकी के समीप एक सप्ताह पहले म्याऊ की तरफ से मोटर साइकिल से जा रहे प्रिन्ट मीडिया के पत्रकार को बदायूं की ओर से आ रही तीव्र गति की ओवर लोड कैन्टर ने टक्कर मार दी जिसके कारण पत्रकार घायल हो गया। केन्टर के चालक द्वारा पत्रकार की गाड़ी की चावी भी कैन्टर चालक ले कर भाग निकला था तभी घायल पत्रकार ने अपने साथी पत्रकार को फोन द्वारा घटना से अवगत कराया तब कहीं जाकर उसावा थाना पुलिस ने कैन्टर को पकड़ा और चालक परिचालक को थाने ले गये वहीं अब तक एक सप्ताह वीत जाने के बाद भी घटना की रिर्पोट दर्ज नहीं की जा सकी है। जबकि घटना स्थल म्याऊ चौकी का है जबकि चौकी पुलिस ने यह कहते हुए मामला डन्डे वस्ते में डाल दिया है। कि घटना उसावा थाना क्षेत्र की है। अब देखना यह होगा कि म्याऊ चौकी पुलिस कैन्टर के चालक के विरुध कार्यवाही करती है। या मामले को ऐसे ही ढन्डे वस्ते में डाले रहती है कैन्टर चालक से समझौता करके कैन्टर चालक को छोड़ने में सफल होती है यह तो आने वाला समय ही वतायेगा जवकि कैन्टर चालक मय गाड़ी के उसावा पुलिस हिरासत में था। तथा उसावा थानाध्यक्ष ने इस सम्बध में म्याऊ चौकी को सूचना द्धारा अवगत कराया और घटना की जानकारी दी तथा कैन्टर का चालक भी घटना म्याऊ चौकी क्षेत्र की वता रहा है। लेकिन म्याऊ चौकी पर तैनात पुलिस स्टाफ घटना होने से इन्कार कर रहा है।जब खबर को एक दैनिक समाचार ने प्रमुखता से छापा तो चौकी पुलिस झुब्ध हो गयी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार म्याऊ चौकी पुलिस पत्रकार पर झूठा मुकदमा लगाकर फसाने का मन वना चुकी है। जब  पत्रकारों पर इस तरह का रवैया अपना जा रहा है तो आम जनता का योगी सरकार में क्या हाल होगा म्याऊ चौकी के इस रवैया से जनता में गुस्सा पनप रहा है। एक तरफ योगी सरकार लगातार अधिकारियों को दिशा निर्देश देकर देकर भय मुक्त एव चुरस्त दुरस्त वनाने में लगी है।वहीं म्याऊ चौकी पुलिस योगी सरकार को चूना लगाने में जुटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.