बदायूँ: आवारा, निराश्रित पशुओं के लिए ग्राम करेली में बनेगी गौशाला/सदर एवं शेखूपुर विधायक, डीएम ने स्थलीय निरीक्षण कर भूमि का किया चिन्हांकन

बदायूँ :  किसानों की फसलों के नुकसान और आवारा घूमने वाले निराश्रित पशुओं की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए ब्लाक जगत अन्तर्गत ग्राम करेली में गौशाला स्थापित कराई जाएगी। सदर विधायक महेश चन्द्र गुप्ता एवं शेखूपुर विधायक धर्मेन्द्र शाक्य तथा जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने मौका मुआयना कर भूमि को चिन्हित कर लिया है।
मंगलवार को सुशासन दिवस के अवसर पर डीएम एवं जनप्रतिनिधियों ने सर्वप्रथम ग्राम करेली पहुँचकर स्थिति का जायजा लेते हुए भूमि का चयन किया। ग्राम चिंजरी के धनपाल सहित अन्य ग्रामीणों ने अवगत कराया कि आवारा पशुओं के कारण फसलों का बहुत नुकसान होता है। जनहित एवं पशुओं की समस्याओं को दृष्टिगत रखते हुए गौशाला का निर्माण नितांत आवश्यक है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी गौशाला निर्माण की रूप रेखा तैयार करें, जिससे मनरेगा एवं समाज के सहयोग से इस कार्य को अंजाम दिया जा सके। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास है कि शीघ्र ही गौशाला का भूमि पूजन हो सके। उन्होंने जनप्रतिनिधियों के साथ दो स्थानों का स्थलीय निरीक्षण किया। ग्रामसभा की लगभग 10 हेक्टेयर भूमि को गौशाला के लिए चिन्हित किया गया।
झोपड़ी देखकर रुक गया डीएम का काफिला- गौशाला के लिए भूमि के निरीक्षण को जाते समय रास्ते में झोपड़ी देखकर जनप्रतिनिधि एवं डीएम रुक गए। उन्होंने झोपड़ी स्वामी अनार देवी पत्नी ऋषिपाल सहित अन्य ग्रामीणों से वार्ता की। डीएम ने कहा कि जिनकी छत कच्ची है या पन्नी डालकर गुजर-बसर कर रहे हैं। ऐसे सभी गरीबों को सरकार आर्थिक सहायता उपलब्ध कराएगी। धनराशि मिलने में कुछ समय अवश्य लग सकता है, लेकिन हताश एवं निराश होने की आवश्यकता नहीं है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामनिवास शर्मा, उप जिलाधिकारी सदर पारसनाथ, दातागंज रोड स्थित श्रीमद ब्रहमदत्त गौशाला के सचिव सचिन भारद्वाज सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.