कोरिया:-रायपुर-प्रदेश में एक जुलाई 2019 से चिपयुक्त ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी बुक अमान्य हो जाएंगे। (वेदप्रकाश तिवारी की रिपोर्ट)

कोरिया:-रायपुर-प्रदेश में एक जुलाई 2019 से चिपयुक्त ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी बुक अमान्य हो जाएंगे।
क्योंकि केंद्र सरकार ने आदेश जारी किया है, कि देश के अभी सभी ड्राइविंग लाइसेंस में क्यूआर कोड लगेगा। जिस लाइसेंस में क्यूआर कोड नहीं लगेगा, वह लाइसेंस अमान्य होगा। नियम तोड़ने वाले वाहन चालक और सड़क हादसे के बाद वाहन चालक की डिटेल आसानी से मिल जाए इसलिए केंद्र सरकार ने देशभर के वाहन लाइसेंसधारियों कोक क्यूआर कोड से लैस लाइसेंस देने का फरमान निकाला है।

रायुपर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी पुल्लक भट्‌टाचार्य से मिली जानकारी के मुताबिक वर्तमान में चिपयुक्त लाइसेंस वाहन चालकों को दिया जा रहा था, लेकिन वाहन चालक उसकी भी डुप्लीकेट लेकर घूमते थे, जिस वजह से उन्होंने नियम कितनी बार तोड़ा है इसकी जानकारी नहीं होती है और हादसे के बाद उनकी शिनाख्त भी नहीं होती थी। केंद्रीय परिवहन कार्यालय के इस निर्देश के बाद उन वाहन चालकों में सुधार आएगा जो आदतन नियमों को तोड़ते है, इसके साथ ही हादसे के बाद वाहन चालक की डिटेल निकालने में आसानी होगी। केंद्रीय परिवहन कार्यालय का यह फरमान देश के सभी परिवहन कार्यालय में शनिवार को पहुंचा है। आदेश आने के बाद परिहवन अधिकारियों ने चिपयुक्त लाइसेंस को क्यूआकोड में तब्दील करने की जानकारी देना शुरु कर दी है।

क्यूआर कोड में होगी ये जानकारी

क्यूआर कोड से लाइसेंस और गाड़ी के दस्तावेज को लैस किया जाएगा।इसमें वाहन मालिक के नाम के साथ माता-पिता का नाम, पता, जन्म तिथि, शैक्षणिक योग्यता, पहचान चिन्ह, मोबाइल नंबर, वाहन का प्रकार, जारी करने की तिथि, इसकी वैधता के साथ ही निर्माणकर्ता अधिकारी का नाम, अंगदान के विकल्प सहित 50 से अधिक जानकारियां होंगी। प्लास्टिक का यह कार्ड आधुनिक एनएफसी सिस्टम से लैस होगा।

60 लाख ड्राइविंग लाइसेंस और 55 लाख आरसी प्रदेश में

परिवहन विभाग के अधिकारियों की मानें तो छत्तीसगढ़ में इस वक्त 60 लाख ड्राइविंग लाइसेंस और 55 लाख आरसी बुक हैं। इनमें अभी चिप लगा हुआ है। अफसरों का कहना है कि इस चिप से विभाग को बहुत ज्यादा मदद नहीं मिल रही है। यही कारण है कि अब इन्हें क्यूआरडी में बदला जाएगा। 1 जुलाई से आदेश लागू होन के बाद प्रदेश के सभी वाहन चालकों को नया लाइसेंस बनवाना होगा। लाइसेंस नहीं बनवाने वाले पर नियमानुसार कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.